ऊं शान्ति: ब्रह्म कुमारी जानकी दादी का निधन

तारकेश्वर टाईम्स (हि.दै.)


जयपुर। विश्व के सबसे बडे आध्यात्मिक संगठनों में से एक ब्रह्माकुमारी संस्थान की मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी दादी जानकी का 104 वर्ष की उम्र में बीती रात दो बजे निधन हो गया। दादी जानकी स्वच्छ भारत मिशन की ब्रांड एम्बेसडर भी थी। राजस्थान के सिरोही जिले में माउण्ट आबू के ग्लोबल हास्पिटल में उपचार के दौरान उनका निधन हुआ। दादी जानकी दुनिया की एकमात्र महिला थीं, जिन्हें मोस्ट स्टेबल माइंड इन वर्ल्ड का खिताब मिला था। दादी जानकी का अंतिम संस्कार शुक्रवार शाम 3.30 बजे माउण्ट आबू में ही ब्रह्माकुमारीज संस्थान के शांतिवन में होगा।   
उनके निधन पर पीएम मोदी ने भी शोक जताते हुए ट्वीट कर कहा, 'ब्रह्म कुमारी प्रमुख राजयोगिनी दादी जानकी जी ने परिश्रम के साथ समाज की सेवा की। वह दूसरों के जीवन में सकारात्मक अंतर लाने में सबसे आगे रही। महिलाओं को सशक्त बनाने की दिशा में उनके प्रयास उल्लेखनीय थे। इस दुख की घड़ी में मेरे संवेदनाएं उनके अनगिनत अनुयायियों के साथ हैं। ओम शांति।'     
  राजयोगिनी दादी जानकी का जन्म 1 जनवरी, 1916 को हैदराबाद सिंध (जो अभी पाकिस्तन में है) में हुआ था। वे 21 वर्ष की उम्र में ही इस संस्थान से जुड़ गई थी। सन् 1970 में भारतीय संस्कृति, मानवीय मूल्यों और राजयोग का संदेश देने के लिए पश्चिमी देशों का रुख किया था। ब्रह्माकुमारीज संस्थान की पूर्व मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी दादी प्रकाशमणि के देहावसान के पश्चात सन् 27 अगस्त, 2007 को वे संस्थान की मुख्य प्रशासिका बनी। उनके सान्निध्य में तकरीबन 46 हजार महिलाएं इस संस्थान से जुड कर काम कर रही है।
       ➖   ➖   ➖   ➖   ➖
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए 
मो. न. : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती : दवा व्यवसाई की पत्नी का अपहरण

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश