कोरोना अलर्ट - विस्तृत जानकारी 

तारकेश्वर टाईम्स (हि.दै.)
बुखार की है शिकायत तो आईसोलेशन वार्ड की ओपीडी में कराएं परीक्षण मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पताल व महिला अस्पताल में है व्यवस्था भीड़-भाड़ वाले ग्रामीण अस्पतालों में भी अहतियात बरतने के निर्देश
बस्ती (उ.प्र.) । जिला व महिला अस्पताल आने वाले बुखार से पीड़ित मरीजों के लिए अलग ओपीडी संचालित की जा रही है। बुखार से प्रभावित मरीजों का पर्चा बनाने से लेकर परीक्षण तक का काम इसी ओपीडी में किया जा रहा है। भीड़-भाड़ वाले ग्रामीण अस्पतालों में भी अहतियात बरतने के निर्देश दिए गए हैं। आम लोगों से अपील की जा रही है कि बुखार, जुकाम की शिकायत होने पर सामान्य मरीजों की भीड़ में न घुसे और कोरोना के फैलाव को रोकने में सहयोग प्रदान करें।


जिला अस्पताल में प्रतिदिन लगभग 1500 मरीज इलाज के लिए आते हैं। कोरोना को लेकर जागरूकता बढ़ने पर बुखार व जुकाम की शिकायत होने पर लोग जांच के लिए भी अस्पताल पहुंच रहे हैं। जिला अस्पताल के एसआईसी डॉ. ओपी सिंह ने बताया कि आईसोलेशन वार्ड में ही अलग ओपीडी बनाई गई है। यहीं पर पंजीकरण की भी व्यवस्था कर चिकित्सक की तैनाती की गई है। यहां आने वाले लोगों के स्वास्थ्य परीक्षण के साथ ही उन्हें अहतियात बरतने की सलाह भी दी जा रही है। समस्या ज्यादा दिखने पर मरीज से ट्रेवल हिस्ट्री भी पूछी जा रही है। सभी को यह सलाह दी जा रही है कि स्वच्छता पर विशेष ध्यान दें तथा समस्या दूर होने तक घर-परिवार के अन्य लोगों से दूरी बनाए रखें।
जिला महिला अस्पताल में प्रतिदिन 500-800 मरीज आ रहे हैं। अस्पताल के सीएमएस डॉ. एके सिंह ने बताया कि सामान्य ओपीडी से अलग बुखार वाले मरीजों के लिए अलग ओपीडी बनाई गई है। वहीं पर पंजीकरण से लेकर परीक्षण तक का कार्य किया जा रहा है। बुखार वाले मरीजों को सलाह दी जा रही है, कि वे सामान्य मरीजों से दूरी बनाए रखें। इसी के साथ एक प्राइवेट वार्ड को आईसोलेशन वार्ड बनाया गया है। अगर कोरोना के लक्षण वाली कोई गर्भवती आती है तो उसे आईसोलेशन वार्ड में रखकर इलाज कराया जाएगा। सभी सावधाानियां बरती जा रही हैं। एसीएमओ डॉ. फखरेयार हुसैन ने बताया कि कुछ ग्रामीण अस्पतालों में भीड़ काफी हो रही है। वहां के चिकित्सकों से कहा गया है कि बुखार वाले मरीजों को लेकर विशेष सावधानी बरतें। उनका परीक्षण अन्य मरीजों से अलग करें। किसी भी तरह के लक्षण पाए जाने या ट्रैवल हिस्ट्री होने पर तत्काल सूचना जिले पर दें। मरीज को अलग वार्ड में रखकर उसका इलाज करें। अहतियात बरतने के साथ इस बात पर विशेष ध्यान रहे कि लोगों में किसी तरह का खौफ न फैलने दें। समय-समय पर जानी एडवॉयजरी पर अमल करके वॉयरस के फैलाव को रोका जा सकता है।
कोरोना से बचाव के लिए यह करें उपाय-
- हाथों को साबुन व साफ पानी से बार-बार धोएं। 
- खांसते या छींकते समय मुंह को रूमाल या टिशू पेपर से ढकें। टिशू पेपर को कूड़ेदान में ही फेंके।
- अपने स्वास्थ्य की जांच स्वंय करें। खांसी, सांस लेने में परेशानी या बुखार होने पर चिकित्सक से संपर्क करें। 
- यात्रा या बाजार के लिए जरूरी होने पर ही सावधानी के साथ निकले।
- भीड़-भाड़ वाले स्थानों से दूरी बनाए रखें।
- संक्रमित व्यक्ति से दूरी बनाए रखें। 
- सार्वजनिक व खुले स्थानों पर न थूकें। 
- बेवजह अपने मुंह, नाक या आखों को न छुएं। 
- बुखार, खांसी के लक्षण होने पर सार्वजनिक स्थानों पर न जाएं। लोगों से निकट संपर्क न बनाएं। 
कोरोना संबंधी जानकारी के लिए इन नंबरों पर करें कॉल
- 9111-23978046, 1075
- 1800-180-5145
- 1800-180-1900
        इन नंबरों पर दें सूचना
- जिला कंट्रोल रूम- 05542-28774
- सीएमओ डॉ. जेपी त्रिपाठी- 8005192643
- एसीएमओ डॉ. सीएल कन्नौजिया- 9648202076
- इपिडिमियोलॉजिस्ट उमेश कुमार- 9450572717
        ➖   ➖   ➖   ➖   ➖
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए 
मो0 न0 : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती : दवा व्यवसाई की पत्नी का अपहरण

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश