अस्पताल में लगी आग

तारकेश्वर टाईम्स (हि.दै.)


संतकबीरनगर (उ.प्र.) । संयुक्त जिला अस्पताल के पीआईसीयू में शार्ट सर्किट से आग लग गई। वार्ड से उठता धुआं देख वहां मौजूद स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों और मरीजों के परिवारीजनों में हड़कंप मच गया। स्टाफ नर्स और स्थानीय कर्मचारियों की मदद से मरीजों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों ने फायर सिलेंडर से आग पर काबू पाया। बच्चों को इलाज के लिए गोरखपुर रेफर कर दिया गया।
जिलाधिकारी रवीश कुमार गुप्ता ने मौके पर पहुंच कर जायजा लिया। जिला अस्पताल में दोपहर बाद पीआईसीयू से धुआं उठाना शुरू हुआ। वार्ड में तीन बच्चे भर्ती थे। बच्चों के परिजन की चीख-पुकार सुन कर स्टाफ नर्स साधना यादव और नीलम वार्ड की ओर दौड़ीं। दोनों कर्मचारियों की मदद से बच्चों को फौरी तौर पर बाहर निकाला गया। इसी बीच एसएनसीयू में भर्ती दो नवजात शिशुओं को भी बाहर कर दिया गया। इतने में वार्ड में धुंए का गुब्बार भर गया। 
किसी को कुछ दिखाई नहीं पड़ रहा था। फौरी तौर पर अस्पताल की बिजली काट दी गई। अस्पताल में भर्ती मरीजों को बाहर निकाल दिया गया। स्थानीय कर्मचारियों ने पीछे से खिड़की तोड़ कर फायर सिलेंडर के माध्यम से आग पर काबू पाने की कोशिश शुरू की। वार्ड के अंदर इंचार्ज गीता गौतम की अगुवाई में वेंटीलेटर व अन्य उपकरणों को बाहर निकाला गया। जब तक फायर ब्रिगेड मौके पर पहुंचता तब तक आग पर काबू पा लिया गया था। 
जिला अस्पताल के सीएमएस डा. वाईपी सिंह ने जिलाधिकारी को बताया कि अग्निकांड से कोई मरीज हताहत नहीं हुआ है। जो कुछ नुकसान हुआ है वह उपकरण का हुआ है। डीएम रवीश कुमार गुप्ता ने जायजा लेने के बाद बताया कि बिजली की शार्ट सर्किट से पीआईसीयू में आग लगी थी। कोई जन हानि नहीं होने पाई। कर्मचारियों की तत्परता से आग पर काबू पा लिया गया। मशीनें सुरक्षित हैं। सिर्फ एक बेड का नुकसान हुआ है। स्वास्थ्य विभाग को जल्द सेवा बहाली के निर्देश दिए गए हैं।
      ➖   ➖   ➖   ➖   ➖
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए 
मो0 न0 : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती : दवा व्यवसाई की पत्नी का अपहरण

अयोध्या : नहाते समय पत्नी को किस करने पर पति की पिटाई

बस्ती : पत्नी और प्रेमी ने बेटी के सामने पिता को काटकर मार डाला, बोरे में भरकर छिपाई लाश