डिबार होंगे नकलची परीक्षा केन्द्र : डिप्टी सीएम

बस्ती ( सू.वि.उ.प्र. ) । प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डाॅ0 दिनेश शर्मा ने कहा है कि नकल कराने वाले परीक्षा केन्द्र को डिबार किया जायेगा तथा उसकी मान्यता भी समाप्त की जायेंगी। वे बस्ती जिले में माध्यमिक शिक्षा बोर्ड परीक्षा व्यवस्था का निरीक्षण करने के बाद सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अबतक नकल में शामिल 141 विद्यालय के केन्द्राध्यक्षो तथा परीक्षक के विरूद्ध एफ.आई.आर.दर्ज करायी गयी है तथा 39 परीक्षा केन्द्रों को डिबार किया गया है। 



उन्होने कहा कि प्रदेश में नकल संज्ञेय अपराध है। इसलिए नकल कराने में संलिप्त पाये जाने पर दोषी व्यक्ति को जेल भेजा जायेंगा। उन्होने संतोष व्यक्त किया कि बस्ती जिले में शुचितापूर्ण पारदर्शी ढंग से परीक्षा हो रही है। इसके लिए उन्होने जिला प्रशासन को बधाई भी दिया है। 
उन्होने कहा कि यह देश की सबसे बड़े बोर्ड की परीक्षा है। 94 हजार कक्ष में यह परीक्षा हो रही है। 1.01 लाख कक्ष निरीक्षक लगाये गये है। 1.90 लाख सीसी टीवी कैमरे से इसकी निगरानी की जा रही है। इसके अलावा प्रत्येक केन्द्र पर स्टेटिक मजिस्ट्रेट तथा सेक्टर मजिस्टेªट एवं जोनल मजिस्टेªट तैनात किए गये है। लखनऊ में स्थापित कंट्रोल रूम से प्रत्येक केन्द्र और परीक्षा कक्ष की मानीटरिंग की जा रही है। 
उन्होने कहा कि परीक्षा की शुचितपूर्ण एवं पारदर्शी व्यवस्था को देखते हुए शरारती तत्व सक्रिय हो गये है और रोज नई-नई अफवाहें फैला रहे है। हमें ऐसे तत्वों को चिन्हित करके कार्यवाही करना होगा ताकि वे दुबारा छात्र-छात्राओं के भविष्य से खिलवाड़ न कर सके। वर्तमान व्यवस्था में नकल माफियाओं के कमर टूट गयी है इसलिए वे मनगढंत कार्य कर रहे है और सोशल मीडिया पर नई पोस्ट डाल रही है। हमें ऐसे तत्वों से सावधान रहना होगा।
उप मुख्यमंत्री ने सबसे पहले कृष्ण कुमारी बालिका कन्या इण्टर कालेज का निरीक्षण किया। यहाॅ केन्द्र व्यवस्थापक प्रगति यादव ने उन्हें परीक्षा व्यवस्था की जानकारी दिया। उप मुख्यमंत्री को उन्होने बताया कि हाई स्कूल की विज्ञान की परीक्षा चल रही है, कुल 269 छात्र-छात्राओ में 18 अनुपस्थित है। उप मुख्यमंत्री ने भी छात्राओ से परीक्षा के बारे में पूछ-ताछ किया। उन्होने कंट्रोल रूम जाकर प्रत्येक कक्षा का स्की्रन पर अवलोकन किया। उन्होने लखनऊ स्थित कंट्रोल रूम में तैनात अधिकारी से वार्ता करके कालेज के कंट्रोल रूम को लिंक कराया। साथ ही एक परीक्षा कक्ष को लखनऊ में मानीटर करने को कहा। उन्होने स्कूलों के बरामदों को प्लास्टर कराने का निर्देश दिया।
श्री कृष्ण पाण्डेय इण्टर कालेज के निरीक्षण के दौरान प्रधानाचार्य योगेश शुक्ल ने परीक्षा व्यवस्थाओं की जानकारी दिया। उन्होने बताया कि 39 छात्र-छात्राए अनुपस्थित है। उप मुख्यमंत्री ने श्याम प्रसाद मुखर्जी इण्टर कालेज जिगिना में परीक्षा व्यवस्था का निरीक्षण किया। छात्र-छात्राओं से परीक्षा के बारे में पूछ-ताछ किया तथा मेहनत से परीक्षा देने के लिए प्रेरित भी किया। 
उन्होने विद्यालय की कक्ष संख्या 02, 04 एवं 05 का निरीक्षण किया। केन्द्र व्यवस्थापक/प्रधानाचार्य ओम प्रकाश त्रिपाठी ने बताया कि स्थापना काल 1967 से ही यह विद्यालय एक आदर्श विद्यालय रहा है तथा नकल से दूर रहा है। यह हाई स्कूल तक मान्यता प्राप्त है। उन्होने इण्टर तक मान्यता एवं अनुदान दिलाने का अनुरोध किया है। 
उप मुख्यमंत्री ने जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय में पॅहुचकर जिला कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया। यहाॅ उन्होने सम्वेदनशील विद्यालयों किसान उ0मा0 विद्यालय हुड़रा कुॅवर तथा श्रीमती अख्तर अब्बासी देवी बालिका इण्टर कालेज हर्रैया के कक्ष में चल रही परीक्षा का स्क्रीन पर जायजा लिया। 
जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने उप मुख्यमंत्री को जिले में चल रही बोर्ड परीक्षाओं की व्यवस्थाओं से अवगत कराया। इस दौरान एसपी हेमराज मीणा, डीआईओएस डाॅ0 बृज भूषण मौर्य, एडीएम रमेश चन्द्र, उप जिलाधिकारी श्रीप्रकाश शुक्ल, तहसीलदार पवन जायसवाल, सीओ गिरीश सिंह उपस्थित रहें। इसके पूर्व उप मुख्यमंत्री के हेलीकाप्टर से पुलिस लाइन पॅहुचने पर अधिकारियों ने उनका स्वागत किया। पुलिस लाइन में ही उन्हें गार्ड आफ आनर दिया गया।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम