शिक्षिकाओं के लिए जारी आदेश निरस्त

तारकेश्वर टाईम्स (हि0दै0)


बस्ती (उ0प्र0) । मण्डल के सिद्धार्थनगर जिले में मंगलवार को होने वाले सामूहिक विवाह समारोह में महिला शिक्षकों  को दुल्हनों को सजाने का जिम्मा सौंपे जाने से उत्पन्न विवाद को देखते हुए जिम्मेदारी हटाने के साथ ही इससे सम्बन्धित आदेश वापस ले लिया गया और सम्बन्धित खण्ड शिक्षा अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की बात कही जा रही है । 



 बता दें कि शिक्षा विभाग से इस आशय का बाकायदा आदेश जारी किया गया था। खंड शिक्षा अधिकारी नौगढ़ ध्रुव प्रसाद जायसवाल ने दुल्हनों को सजाने के लिए 20 शिक्षिकाओं की ड्यूटी लगाई थी। उन्हें सुबह 9 बजे ही कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने को कहा गया था। इस आदेश को लेकर चारों तरफ से आलोचनाएं झेलने के बाद देर शाम बीएसए सूर्य कान्त त्रिपाठी ने आदेश को निरस्त कर दिया। प्रशासन की तरफ से आज 28 जनवरी को सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया है। जिसमें खंड शिक्षा अधिकारी द्वारा 20 महिला अध्यापकों की ड्यूटी दुल्हन सजाने के लिए लगाया गयी थी । इस आदेश को रद्द करते हुए खण्ड शिक्षा अधिकारी के विरुद्ध कार्यवाही प्रस्तावित की गयी है ।



 इस सामूहिक विवाह कार्यक्रम में दुल्हनों को सजाने के लिए महिला अध्यापक साक्षी श्रीवास्तव, सन्ध्या कबीर, नीलम वर्मा, वन्दना यादव, शान्ती यादव, साधना श्रीवास्तव, नीलम, आरती चौधरी, जूही मिश्रा, प्रतिमा श्रीवास्तव, पल्लवी सिंह, उषा उपाध्याय, अनुराधा, सुष्मा जायसवाल, नाजमीन, संगीता, प्रियदर्शिका पाण्डेय, अनुराधा शुक्ला, संदीपा राजा और कालिन्दी शर्मा को ड्यूटी पर लगाया था। सभी शिक्षिकाओं को 28 जनवरी को सुबह 9 बजे पहुंचने का आदेश मिला था। इस आदेश की प्रति के वायरल होते ही प्रशासन में हड़कंप मच गया।  जिलाधिकारी दीपक मीणा का कहना है कि शिक्षकाओं को दुल्हन सजाने के लिए ड्यूटी पर लगाना अनुचित है। इस मामले में जो आदेश बीईओ द्वारा किए गए थे, उसे निरस्त कर दिया गया है।
       ➖   ➖   ➖   ➖   ➖
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए 
मो0 न0 : -9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती : ब्लॉक रोड पर मामूली विवाद में मारपीट, युवक की मौत