सौभाग्य योजना की तिथि बढ़ी , सभी को दें विद्युत कनेक्शन : डीएम.

तारकेश्वर टाईम्स (हि0दै0) 


बस्ती ( सू.वि. उ.प्र. ) । विद्युत विभाग में सौभाग्य योजना की तिथि 31 मार्च 2020 तक बढा दी गयी है। उक्त जानकारी देते हुए जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने विद्युत विभाग को निर्देश दिया है कि सभी परिवार को इस योजना के तहत निःशुल्क कनेक्शन दें। कोई भी परिवार इससे वंचित न रहे। वे विकास भवन सभागार में विकास कार्यो की समीक्षा कर रहे थे। उन्होने कहा कि कटिया लगाकर बिजली का उपभोग करने वालो के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराये। 



उन्होंने कहा कि विद्युत एवं गैस कनेक्शन रखने वाले परिवारों को अब मिट्टी का तेल नही मिलेगा। उन्होंने सभी एसडीएम/बीडीओं को निर्देश दिया है कि प्रत्येक गाॅव में दोनों कनेक्शन से वंचित परिवारों की सूची तैयार कराये ताकि केवल उन्हीं परिवारों को मिट्टी का तेल दिया जायेगा। यह सूची सार्वजनिक स्थल पर चस्पा की जायेगी। 
उन्होंने कहा कि विद्युत एंव गैस कनेक्शन वाले लगभग 70 प्रतिशत परिवार है। शेष 30 प्रतिशत परिवारों को ही मिट्टी का तेल दिया जायेगा। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि जिले के 62 ग्राम पंचायतों में सार्वजनिक वितरण प्रणाली भी दुकानों का व्यवस्थापन जनवरी माह में पूरा कराये। 
समीक्षा में उन्होने पाया कि 3307 वृद्धावस्था पेंशन के व्यक्तियों का प्रार्थना पत्र ब्लाक एवं नगर निकाय में सत्यापन हेतु लम्बित है। उन्होंने निर्देश दिया कि एक सप्ताह में इनका सत्यापन कर आनलाइन अपलोड कराये। सुमंगला कन्या योजना में आवेदकों की संख्या बढाने के लिए उन्होंने सीएमओ तथा बीएसए को निर्देश दिया है। अभी तक इस योजना में 6993 आवेदन हुए है जिसमें से 1792 का सत्यापन लम्बित है। जिलाधिकारी ने समीक्षा में पाया कि मुख्यमंत्री समंग्र ग्राम योजना में जिला स्तरीय अधिकारियों को आवंटित गाॅव के विकास कार्यो का अभी तक सत्यापन नहीं किया गया है। उन्होंने एक सप्ताह में सत्यापन करने का निर्देश दिया है। उन्होंने बीडीओं को निर्देश दिया कि संबंधित गाॅव की बुकलेट उपलब्ध कराये। 



नव वर्ष नव उत्कर्ष के अन्तर्गत जिले के 53 गाॅव में कोई कार्य न कराये जाने पर जिलाधिकारी ने असंतोष व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि जनवरी माह में ग्राम उत्सव मनाने का निर्णय लिया गया है ताकि मनरेगा के अन्तर्गत मानवदिवस सृजन का लक्ष्य पूरा किया जा सके। समीक्षा में उन्होंने पाया कि 74 लाख के सापेक्ष अभी तक 54.65 लाख मानवदिवस सृजित हो पाया है। 
जिलाधिकारी ने कहा कि स्वास्थ्य एवं कृषि विभाग की काफी योजनाएं संचालित है, जिसमें वार्षिक लक्ष्य पूरा करने की जिम्मेदारी संबंधित अधिकारियों की है। संस्थागत प्रसव की सूचना प्राइवेट अस्पतालों से प्राप्त करने के लिए नोडल अधिकारी एवं कर्मचारी तैनात करने के लिए जिलाधिकारी ने निर्देश दिया है। उन्होने कहा कि जेई/एईएस से प्रभावित परिवार के आस-पास सुरक्षात्मक कार्यवाही करने के साथ ही संबंधित विभागो को इसकी सूची भी उपलब्ध कराये ताकि उन्हें योजनाओं का लाभ दिलाया जा सके। 
जिलाधिकारी ने सभी उप जिलाधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे अपने क्षेत्र के सड़क एवं पुल की आवश्यकता का आकलन करके प्रस्ताव भेजे। इसके लिए आवश्यक मानक की जानकारी पीडब्लूडी के अधिशासी अभियन्ता एके गुप्ता ने दिया। इसके साथ ही उप जिलाधिकारी, पीडब्लूडी एवं सेतु निगम द्वारा तैयार प्रस्तावों की उपयोगिता की जाॅच कर रिपोर्ट देंगे। 



उन्होंने बैठक में पंचायती राज, छात्रवृत्ति, पेंशन योजना, शादी अनुदान, महिला हेल्फ लाइन, प्रधानमंत्री एंव मुख्यमंत्री आवास योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, गढ्ढामुक्ति, पाइप लाइन पेयजल योजना, कृषि एवं अन्य विभागों की योजना की समीक्षा किया तथा समय से कार्य पूरा करने का निर्देश दिया। 
बैठक का संचालन अर्थ एवं संख्याधिकारी टीपी गुप्ता ने किया। इसमें सीडीओ अरविन्द पाण्डेय, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट प्रेम प्रकाश मीना, उप जिलाधिकारी श्रीप्रकाश शुक्ला, नीरज पटेल, आशाराम वर्मा, पीडी आरपी सिंह, उप निदेशक कृषि डाॅ0 संजय त्रिपाठी, अजीत श्रीवास्तव, इन्द्रपाल सिंह, राजाबाबू कटियार एवं विभागीय अधिकारीगण उपस्थित रहे। 
         -  -  -  -  -  -  -  -  - -  - -  -
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए 
मो0 न0 : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम