पुलिस ने गोली मारकर बचाई बच्चों की जान : 10 लाख ईनाम

तारकेश्वर टाईम्स (हि.दै.)


फर्रूखाबाद ( उ0प्र0 ) । जिले में चोरी के मामले में फंसे हत्यारोपी ने गांव वालों से रंजिश के तहत गुरुवार को बेटी के जन्म दिन के बहाने 23 बच्चों को घर बुलाकर बंधक बना लिया। सुभाष नाम सिरफिरे व्यक्ति ने कथरिया गांव के एक मकान में तहखाने में रखे गए बच्चों को मुक्त कराने पहुंची स्वाट टीम पर छत से कई फायर किए। उसने दो सिपाहियों व मुखबिरी करने वाले ग्रामीण को सामने बुलाने की मांग की। कोतवाल पहुंचे तो उन पर भी फायरिंग की और हथगोला फेंका। कोतवाल व दीवान हथगोले की गिट्टी से जख्मी हो गए। देर रात पुलिस ने सुभाष को गोली मारकर बच्चों की जान बचाई । इस आपरेशन में सुभाष की मौत हो गयी ।



हत्यारोपी ने पुलिस अधीक्षक और विधायक की मौजूदगी में समझाने को बढ़े ग्रामीणों पर फायर किया। ग्रामीण के पैर में गोली लगी। देर रात सभी बच्चों को पुलिस ने सुरक्षित बचा लिया और आरोपी सुभाष को घर में घुसकर मार गिराया। इसके अलावा सुभाष की पत्नी ने भी इलाज के दौरान दम तोड़ दिया है। सीएम योगी ने पुलिस को शाबाशी देकर 10 लाख रुपए के ईनाम की घोषणा की है।



 उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि बच्चों को मुक्त कराने का अभियान आठ घंटे चला हमने अपहरणकर्ता से बात करके बच्चों को छोड़ने के लिए राजी करने की कोशिश की लेकिन हमें पता चला कि उसके पास हथियार है और हथगोला भी। उसने धमाका करने की धमकी भी दी थी । 
UP DGP OP Singh: The operation ran for around 8 hours. We tried to engage him constructively through talks but we got information that he had firing capability and there was possibility that he had explosives in his possession. He was threatening to carry out a blast.
            ➖   ➖   ➖   ➖   ➖
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए 
मो0 न0 : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती : ब्लॉक रोड पर मामूली विवाद में मारपीट, युवक की मौत