करोड़ों की धन उगाही के खिलाफ बस्ती महोत्सव का बहिष्कार

तारकेश्वर टाईम्स (हि0दै0)


बस्ती( उप्र. ) । बस्ती मण्डल मुख्यालय पर आज से शुरू होने वाले बस्ती महोत्सव में प्रशासन यानि बस्ती महोत्सव समिति पर करोड़ों रूपये की अवैध वसूली के आरोप लगे हैं । वहीं दूसरी ओर बस्ती को दुनिया के क्षितिज पर स्थापित करने वाले आचार्य रामचंद्र शुक्ल की उपेक्षा और प्रशासन पर वादाखिलाफी जैसे गंभीर आरोप लगे हैं । भाजपा विधायक संजय संजय जायसवाल ने यह बड़ा मुद्दा उठाया है । उन्होंने बस्ती महोत्सव का बहिष्कार करने की भी घोषणा की है । पिछले साल भी इन्होंने ऐसी मुद्दे को लेकर सवाल उठाये थे और प्रशासन से टकराव की स्थिति हो गयी थी । 



 मुख्यमंत्री को दिये पत्र में रूधौली विधायक ने लिखा है कि करीब चार से पांच करोड़ रुपए की अवैध वसूली की गई है जिससे यहां की जनता परेशान और निराश है । बस्ती महोत्सव समिति के गठन में किसी भी जनप्रतिनिधि को नही रखा गया है। जन प्रतिनिधियों को आयोजन समिति में न रखने के पीछे जिला प्रशासन की मंशा दूषित लगती है । यदि जन प्रतिनिधि बस्ती महोत्सव के आयोजन समिति में होते तो जिला प्रशासन मनमानी तरीके से चन्दे के नाम पर कर्मचारियों, व्यापारियों तथा विभिन्न विभागो के लाइसेन्सियों का चन्दे के नाम पर शोषण न होता । 



उन्होंने जानकारी चाही है कि क्या शासन द्वारा बस्ती महोत्सव के आयोजन हेतु अलग से कोई बजट निर्धारित किया गया है। यदि नही तो दिनांक 28 जनवरी 2020 से 1 फरवरी 2020 तक महोत्सव मेें होने वाले व्यय का भार कौन निर्वहन कर रहा है ? उन्होंने वसूली का ब्यौरा देते हुुए लिखा है कि जहां तक मुझे जानकारी दी गयी है उस हिसाब से विभिन्न विभागों से निम्न प्रकार की वसूली करायी जा रही है।
1. जनपद के सरकारी शराब की दुकानो से 25 से 30 लाख रूपये।
2. जनपद के सभी 1365 कोटेदारो से लगभग 1000 से 1500 रूपये
3. सभी ब्लाको के एसएमआई से लगभग 20 हजार रूपये प्रति गोदाम
4. जिले के पेट्रोल पम्पों से लगभग 10 हजार 
5. जनपद के सभी ड्रग्स लाइसेन्सी ( मेडिकल स्टोरों ) से लगभग 1000 रूपये
6. सभी नगर पंचायतो से एक लाख
7. भट्ठा व्यवसाइयों से लगभग 10 से 15 हजार
8. जनपद के सभी नर्सिंग होमो से 25 से 30 हजार
9. सभी सीएचसी सेन्टरों 20 हजार
10. बैंको से तीन लाख रूपये
11. राईस मिल एसोसिएशन से लगभग 15 लाख 
12. जनपद के 1249 के अधिकांश ग्राम पंचायतो से लगभग 5 हजार रूपये प्रति ग्राम पंचायत की वसूली की शिकायतें निरन्तर प्राप्त हो रही हैं ।
इसी प्रकार जनपद के सभी विभागो के कर्मचारियों इंसपेक्टर राज के अन्तर्गत आने वाले सभी व्यवसाईयों एवं लाइसेन्सधारियों से जबरन वसूली का कार्य चल रहा है।



संजय जायसवाल ने कहा है कि बस्ती जनपद की धरोहर आचार्य रामचन्द्र शुक्ल का बस्ती महोत्सव में न कहीं न नाम है और न ही स्थान । ऐसी महान विभूति की मूर्ति वर्षो से उखाड़कर फेक दी गयी है , जो अभी तक खेत में पड़ी है । मैं पिछले कई वर्षो से उस मूर्ति को बड़ेवन चैराहे पर स्थापित करवाने की मांग कर रहा हूं, परन्तु जिला प्रशासन द्वारा इस पर कोई अमल नही किया जा रहा है। उन्होंने दु:ख व्यक्त करते हुए उन्होंने बस्ती महोत्सव का बहिष्कार करने की भी बात कही है ।
         ➖   ➖   ➖   ➖   ➖
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए 
मो0 न0 : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती : ब्लॉक रोड पर मामूली विवाद में मारपीट, युवक की मौत