कानून में मानवीयता का अतिक्रमण नहीं : न्यायमूर्ति

बस्ती ( सू.वि. उ.प्र. ) । मा0 उच्च न्यायालय इलाहाबाद के निर्देश तथा जे0टी0आर0आई0 लखनऊ के मार्गदर्शन में पुलिस लाइन बस्ती के सभागार में न्यायिक अधिकारीगण के लिए द्वितीय चरण की कार्यशाला आयोजित हुयी। 
प्रशिक्षण कार्यशाला में जनपद बस्ती, सिद्धार्थ नगर तथा संतकबीर नगर के न्यायिक अधिकारीगण प्रतिभाग किये। कार्यशाला में प्रशासनिक न्यायमूर्ति राकेश श्रीवास्तव तथा न्यायमूर्ति राहुल चतुर्वेदी ने न्यायिक धाराओं की सुसंगत विवेचना करते हुए न्यायिक अधिकारियों को प्रशिक्षित किया। उनके द्वारा किए गये प्रश्नों का विधि-सम्मत उत्तर भी दिया । 



न्यायामूर्ति राकेश श्रीवास्तव ने कहा न्याय करते समय हमें ध्यान रखना चाहिए कि हम सम्वैधानिक विधि के अनुरूप न्याय कर रहे है। किसी भी स्तर पर हमारे कानून की धाराओं में मानवीयता का अतिक्रमण नही है। 
न्यायामूर्ति राहुल चतुर्वेदी ने कहा कि साक्ष्य अवलोकन में विधि ज्ञान के साथ ही स्वविवेक तथा अपनी अन्तर्निहित शक्ति का भी प्रयोग करना चाहिए । 



कार्यशाला में न्यायामूर्ति डीके त्रिपाठी सिद्धार्थनगर (परिवार न्यायालय), एडीजे (फास्ट ट्रैैैक ) संतकबीर नगर ने भी अपने-अपने विचार विधि अनुरूप व्यक्त किए ।
जनपद न्यायाधीश ज्ञानप्रकाश तिवारी ने सभी के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया।



प्रशिक्षण कार्यक्रम में न्यायामूर्ति मनमीत सिंह सूरी, रामचन्द्र यादव, सिविल जज सीनियर डिविजन कुॅवर मित्रेश सिंह कुशवाहाॅ के साथ ही मण्डल के तीनों जनपद के न्यायिक अधिकारीगण उपस्थित रहे।
            -  -  -  -  -  -  -  -  -  -  -
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए 
मो0 न0 :- 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम