भाई और भाभी की गोली मारकर हत्या

तारकेश्वर टाईम्स  (हि0दै0)


ललितपुर ( उ0प्र0 ) । ललितपुर जिले में एक शख्स ने अपने चचेरे बड़े भाई और भाभी की गोली मारकर हत्या कर दी । दोनों चचेरे भाई चौदह साल पहले हुई एक हत्या के मामले में उम्र कैद की सजा काट रहे थे और एक माह पहले पैरोल पर छूटे थे । हत्या के दिन ही पैरोल की अवधि खत्म हो रही थी । हत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है ।



रविवार सुबह 7 बजे भरत अपने चचेरे भाई राम आसरे उर्फ भोलू के घर पहुंचा और दोपहर में पंजाब मेल एक्सप्रेस ट्रेन से आगरा चलने की बात कहने लगा। इसी बीच किसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ। इसके बाद भरत ने राम आसरे की गोली मारकर हत्या कर दी। बचाने दौड़ी 38 वर्षीय भाभी सुनीता को गोली मार दी । घायल पति-पत्नी को उपचार के लिए जिला अस्पताल लाया गया। जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।


     फायरिंग की आवाज सुनकर बच्चे दौड़े तो आरोपी शख्स ने हत्या के इरादे से उन्हें भी दौड़ा लिया। बच्चों ने खुद को कमरे में बंद करजान बचाई। आरोपी और मरने वाला आपस में चचेरे भाई थे। दोनों साल 2006 में हुए हत्या के एक मामले में आजीवन कारावास के अभियुक्त हैं । 5 दिसंबर को पैरोल पर घर आए थे। पुलिस ने आरोपी औरउसकी पत्नी को गिरफ्तार किया है।



कोतवाली सदर अंतर्गत मोहल्ला सिविल लाइंस में स्टेशन रोड पर 40 वर्षीय राम आसरे परिवार के साथ रहता था। साल 2006 में हुए हत्याकांड में चचेरे भाई भरत प्रताप निरंजन औरराम आसरे को आजीवन कारावास की सजा हुई थी। दोनों आगरा की सेंट्रल जेल में सजा काट रहे थे। एक माह की पैरोल रविवार को खत्म हो रही थी । 


पुलिस अधीक्षक कैप्टन एमएम बेग ने बताया कि आरोपी भरत को गिरफ्तार कर लिया गया । उसकी पत्नी को भी हिरासत में लिया गया है । उन्होंने बताया कि हत्या के कारण जानने की कोशिश कर रहे हैं ।
       ➖   ➖   ➖   ➖   ➖
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए 
मो0 न0 : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम