2020 की शुरुआत और मध्य पूर्व में उभरता संकट

तारकेश्वर टाईम्स  (हि0दै0)


( आमोद उपाध्याय )  नया साल 2020 और नया दशक मध्‍य पूर्व में उभरते नए संकट के साथ शुरू हुआ है । ईरान की कुद्स फोर्स के कमांडर मेजर जनरल कासिम सुलेमानी की शुक्रवार को बगदाद एयरपोर्ट के नजदीक अमेरिकी हवाई हमले में मौत हो गई । कुद्स फोर्स ईरान की इस्‍लामिक रिवाल्‍यूशनरी गार्ड कोर का हिस्‍सा है । उनके सलाहकार और इराकी कमांडर अबु मेहदी अल-मुहंदीस  अमेरिका के हमले में पहले ही मारे जा चुके थे । सुलेमानी के बारे में ज्‍यादा जानने के लिए आपको क्षेत्र में पिछले सात-आठ साल से चल रहे विद्रोह पर नजर डालनी होगी ।
सुलेमानी की कुद्स फोर्स का दुनिया में नहीं कोई मुकाबला


सुलेमानी की अहमियत ईरान के बाहरी सुरक्षा हितों की देखभाल के लिए एक विशेष बल को बढ़ावा देने की उनकी क्षमता थी । उनकी कुद्स फोर्स का पूरी दुनिया में कोई मुकाबला नहीं है । अमेरिका की एक मैगजीन ने कुद्स फोर्स के लिए लिखा था कि यह फोर्स अमेरिकी एजेंसी सीआईए और स्‍पेशल फोर्सेस की संयुक्‍त शक्ति के बराबर ताकतवर है. मैगजीन के मुताबिक, कुद्स फोर्स अपनी इंटेलिजेंस के आधार पर सैन्‍य अभियान चलाती है । ईरान ने शिया मुस्लिमों की मौजूदगी वाले क्षेत्रों में अपना दखल बढ़ाने का फैसला किया था । इसके बाद सुलेमानी की कुद्स फोर्स ने शिया मुस्लिमों के हितों की रक्षा के लिए कई बार स्‍थानीय बलों का अस्‍थायी नियंत्रण अपने हाथ में लिया ।



कासिम के कारण ही है लेवंट रीजन में तेहरान का दखल
कासिम सुलेमानी की जबरदस्‍त रणनीति के कारण ईरान की पश्चिमी सीमा से लेबनान तक फैले लेवंट रीजन में तेहरान का दखल हो गया है । कासिम ने इजरायल को पीछे धकेलने के लिए लेबनानी हिजबुल्‍ला और हमास से बेहतर संबंध बनाए । सुलेमानी की ही रणनीति के कारण बशीर असद का अस्तित्‍व बना रहा । हो सकता है कि दो महीने पहले आरामको ऑयल पर हुए हमले में भी कासिम का दिमाग हो । इस हमले के बाद सऊदी अरब का तेल उत्‍पादन कुछ समय के लिए 50 फीसदी रह गया था । इराक में 2019 के आखिरी सप्‍ताह में तेजी से बदले घटनाक्रम के कारण अमेरिका ने उन्‍हें मार गिराया ।
          ➖   ➖   ➖   ➖   ➖
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए 
मो0 न0 : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम