केरल के राज्यपाल को सीएए पर बोलने से रोका

 तारकेश्वर टाईम्स  (हि0दै0)


नई दिल्ली  । केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान एक बार फिर से सुर्खियों में हैं । उनका आरोप है कि प्रसिद्ध इतिहासकार इरफान हबीब ने स्टेज पर चढ़कर उन्हें बोलने से रोका , जब वो संशोधित नागरिकता कानून (CAA) के विरोध में हुए प्रदर्शन पर चर्चा कर रहे थे ।



इस संबंध में केरल के राज्यपाल ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक पोस्ट शेयर किया है । जिसमें उन्होंने बताया है कि मंच से बोलने के दौरान कैसे इरफान हबीब उन्हें रोकने पहुंच गए ? इस दौरान उनके सुरक्षागार्ड्स के साथ हल्की धक्का - मुक्की भी हुई है । केरल के राज्यपाल ने इस घटना की निंदा की है ।


केरल गवर्नर के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से किए ट्वीट में कहा गया है, 'इरफान हबीब ने राज्यपाल के उद्घाटन भाषण को बाधित करने की कोशिश की । उन्होंने मौलाना अबुल कलाम आजाद को कोड करने पर राज्यपाल के कहा कि उन्हें गोडसे को कोड करना चाहिए । उन्होंने राज्यपाल के एडीसी और सुरक्षाकर्मी को धक्का भी दिया ।'
उन्होंने थोड़ी देर बाद एक और ट्वीट किया । इसमें उन्होंने लिखा , 'मैं पहले के वक्ताओं का जवाब दे रहा था और लोगों को संविधान की मूल भावना समझाने की कोशिश कर रहा था । लेकिन मंच और सामने बैठे लोगों ने मुझे बोलने से रोका । जो पूरी तरह असंवैधानिक है । यह दूसरों की विचारधारा के खिलाफ असहिष्णुता को दर्शाता है ।'


बता दें कि केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान, शनिवार को कन्नूर में आयोजित 'भारतीय इतिहास कांग्रेस' पर भाषण दे रहे थे. इस दौरान उन्हें अप्रत्याशित रूप से कुछ प्रतिनिधियों के विरोध का सामना करना पड़ा. राज्यापल ने इससे पहले 'कन्नूर विश्वविद्यालय' में 'भारतीय इतिहास कांग्रेस' के 80वें अधिवेशन का उद्घाटन किया ।
      ➖➖➖➖➖ 
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए 
मो0 न0 : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम