कमल के आकार का बनेगा अटल चिकित्सा विश्वविद्यालय

तारकेश्वर टाईम्स  (हि0दै0)


 लखनऊ  ( उ0प्र0 ) । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्व0 अटल बिहारी वाजपेयी चिकित्सा विश्वविद्यालय का लोक भवन से बटन दबाकर शिलान्यास किया ।  पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी के नाम पर लखनऊ में आकार लेने जा रहा चिकित्सा विश्वविद्यालय कई मायनों में खास होगा । राष्ट्रीय पुष्प कमल के फूल की आकृति में बनने वाला विश्वविद्यालय का भवन लखनऊ की नई पहचान बनेगा, जबकि इसके प्रांगण में लगने वाले कदंब, पारिजात व मौलिश्री जैसे वृक्ष पूरे परिसर की आभा व परिणाम बढ़ाएंगे ।



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 25 दिसम्बर को पूर्व प्रधानमंत्री की जयंती पर अटल बिहारी चिकित्सा विश्वविद्यालय का शिलान्यास किया । विश्वविद्यालय की नींव करीब 11 किलोमीटर दूर चक गंजरिया में पड़ेगी । 50 एकड़ भूमि में बनने जा रहा यह चिकित्सा विश्वविद्यालय सरकारी , अर्धसरकारी व निजी क्षेत्र के 40 मेडिकल कॉलेजों , 17 डेंटल कॉलेजों तथा 299 नर्सिंग व पैरामेडिकल कॉलेजों के कुल 20,770 विद्यार्थियों को हर साल पंजीकृत करेगा । इसमें मेडिकल के 6210 , डेंटल के 2016 और नर्सिंग व पैरामेडिकल कॉलेजों के 12,544 विद्यार्थी होंगे ।



विश्वविद्यालय के लिए राज्य सरकार ने मंजूरी दे दी है । लखनऊ विकास प्राधिकरण से आवंटित भूमि का कब्जा भी चिकित्सा शिक्षा विभाग को 18 दिसंबर को मिल गया है । चिकित्सा शिक्षा महानिदेशक डॉ. के. के. गुप्ता ने बताया कि पहले चरण के तहत विश्वविद्यालय में प्रशासनिक भवन , पुस्तकालय , प्रेक्षागृह , संग्रहालय , अतिथि गृह , आवास व अन्य निर्माण किए जाएंगे । करीब 200 करोड़ रुपये की लागत से तैयार होने वाले विश्वविद्यालय का भवन ग्रीन एनर्जी तकनीक से बनेगा, जिससे 65 फीसद ऊर्जा की बचत होगी । विश्वविद्यालय परिसर में 12 मीटर चौड़ा मार्ग होगा, जिसके साथ ग्रीन ब्लेट बनाकर पौधरोपण किया जाएगा। यहां साइकिल ट्रैक के साथ पैदल चलने का अलग रास्ता होगा , जबकि परिसर में लगे फव्वारे भी चिकित्सा विश्वविद्यालय की भव्यता बढ़ाएंगे ।
         ➖   ➖   ➖   ➖   ➖
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए 
मो0 न0 : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बस्ती के पूर्व सीएमओ ने गंगा में लगाई छलांग

लॉक डाउन पूरी तरह खत्म

बस्ती जिले में 35 नये डॉ. तैनात