हिन्दुत्व के मुद्दे पर फिर गरजे उद्धव ठाकरे , विधान सभा में बोले

मुंबई । हिंदुत्व के मुद्दे को लेकर एक बार फिर शिवसेना ने हुंकार लगाई है । मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को विधानसभा मे विपक्ष को करारा जवाब दिया । विपक्ष में बैठी भाजपा पर बरसते हुए उद्धव ने कहा कि शिवसेना आज भी हिंदुत्व के मुद्दे पर कायम है और रहेगी । वास्तव में वचन देकर उसका पालना करना ही सच्चा हिंदुत्व है । शिवसेना उसका पालन करती है । किसानों के कर्जमाफी को जायज ठहराते हुए उद्धव ने कहा कि यह सरकार किसानो को चिंतामुक्त करेगी । सरकार राज्य के गरीब , मजबूर और किसानो बंधुओं के लिए काम करेगी ,अगर हम न्याय नहीं दे सके तो गुनहगार भी हम ही होंगे ।



उद्धव ठाकरे विधानसभा में विरोधी पक्ष नेता पद पर भाजपा नेता देवेन्द्र फडनवीस के चुने जाने पर अभिन्दन प्रस्ताव पर उद्धव बोल रहे थे । इस मौके पर उद्धव ने देवेन्द्र के साथ अपनी दोस्ती का जिक्र भी किया और भाजपा के साथ पिछले दिनों मिले दगा बाजी को लेकर तंज भी कसा । उद्धव ने कहा कि मै जो बोलता हूँ खुले में बोलता हूँ , बंद दरवाजे में बोलने की बालासाहेब ठाकरे परिवार की संस्कृति नहीं है । यह कटाक्ष भी भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के साथ लोकसभा चुनाव से पहले बंद कमरे में हुई बात चीत को लेकर ही उद्धव ने किया ।
उद्धव ने भाजपा के साथ अपन रिश्ते को लेकर कहा कि पिछले 25 से 30 वर्षों के बीच जो लोग हमारे दोस्त थे आज वे दुशमन बन गए और जो दुश्मन थे वे दोस्त बन गए है । यह गजब का अनुभव है । लेकिन वास्तव में विपक्ष में कोई अलग लोग नहीं है । ये सभी हमारे पुराने मित्र ही हैं , जो  पिछले कई वर्षों से हमारे साथ रहे थे ।
आज विपक्ष में कोई दुसरे लोग नहीं बल्कि हमारे ही मित्र है । उद्धव ने अपने भाषण में कहा कि यह सरकार किसानो के कर्जमाफ नहीं बल्कि उन्हें चिंतामुक्त करेगी । उनके जमीं के कागजात बैंक से ,मुक्त कराना है । किसान बंधुओं को चिंता मुक्त बनना हमारी जवाबदारी है । यदि पूरा नहीं कर पायें तो गुनाहगार होंगे ।




उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि मै मुख्यमंत्री नसीब से बना हूं , भाग्यशाली हूं । मैंने कभी नहीं कहा था कि मै मुख्यमंत्री बनूँगा , पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस के उस नारे पर कटाक्ष था जिसमे उन्होंने कहा था कि मै मुख्यमंत्री बनकर आऊंगा । कई सभाओं में दोहराया था । उद्धव ने कहा कि महा विकास अघाड़ी की सरकार को जनता ने नई इतिहास बनने की जवाबदारी सौपी है । इस सरकार में इतने अनुभवी लोग है । इनके अनुभव का लाभ निश्चित ही मिलेगा । राज्य में कृषि क्षेत्र , उद्योग , रोजगार , शिक्षा आदि पर भरपूर काम होने का आश्वासन दिया ।


उद्धव ठाकरे और भाजपा नेता व् पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस के बीच दोस्ती जग जाहिर है . उसी दोस्ती को याद दिलाते हुए उद्धव ने कहा कि मै भले मुख्यमंत्री हूँ और विपक्ष में देवेन्द्र हैं , लेकिन हम दोस्त है और हमारे दोस्ती में कोई कमी नहीं आएगी . राजनीति अपनी जगह है लेकिन दोस्ती में फर्क नहीं होगा  ।
          ➖   ➖   ➖   ➖   ➖
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए 
मो0 न0 : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

अतीक का बेटा असद और शूटर गुलाम पुलिस इनकाउंटर में ढेर : दोनों पर था 5 - 5 लाख ईनाम

अतीक अहमद और असरफ की गोली मारकर हत्या : तीन गिरफ्तार