अपना यूपी , यहां सब शांति शांति है @ सीएए

तारकेश्वर टाईम्स  (हि0दै0)


  लखनऊ । नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध के दृष्टिगत शुक्रवार को जुमे की नमाज को लेकर अलर्ट पर रही सरकार के प्रयास से कहीं पर भी किसी तरह का बवाल नहीं हुआ । प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर आज हर तरफ सतर्कता के कारण कहीं पर भी बवाल नहीं हुआ। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जिलों में भी लोगों ने नमाज अदा की और परिचितों से मिलते हुए गंगा जमुनी एकता का परिचय दिया । 



सूबे में शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद शांति व्यवस्था कायम है । प्रदेश के सभी जिलों में जुमे की नमाज शांतिपूर्ण ढंग से अदा की गई है । अब तक कहीं से भी किसी तरह की अप्रिय घटना की सूचना नहीं है । नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ पिछले हफ्ते शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के कई जिलों में हुए बवाल और हिंसा के बाद इस बार शांति रही । हाई अलर्ट पर रही पुलिस के कारण प्रदेश के लगभग सभी जिलों में जुमे की नमाज शांतिपूर्ण ढंग से अदा की गई है ।  यहां मुस्लिम भाइयों ने शांति के लिए रोजा रखा और अमन और शांति बरकरार रखने की अपील की ।



जुमे की नमाज के बाद आज बवाल की संभावना पर प्रदेश में अतिरिक्त सतर्कता बरती गई । शुक्रवार की नमाज को लेकर सभी संवेदनशील स्थानों पर सुरक्षा का घेरा काफी कड़ा रहा । फिलहाल हालात सामान्य हैं । प्रदेश में धारा 144 लगी हुई है । लेकिन एहतियात बरते जा रहे हैं । नागरिकता संशोधन कानून को लेकर हुई हिंसा के बाद अब प्रदेश में हालात धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं । जुमे की नमाज के बाद एक बार फिर बवाल की संभावना को देखते हुए संवेदनशील जिलों में प्रशासन ने पहले से ही एहतियातन इंटरनेट बंद करने का ऐलान कर दिया था । सहारनपुर , मेरठ , आगरा , बुलंदशहर , गाजियाबाद , लखनऊ , बरेली , सीतापुर और बिजनौर सहित 21 जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया था । प्रशासन ने सभी डीएम को छूट दी थी कि संवेदनशील और सांप्रदायिक तनाव की संभावना के बीच अपने इलाके में इंटरनेट को बंद करा सकते हैं । शामली , बुलंदशहर , आगरा , संभल , बिजनौर , सहारनपुर , मुजफ्फरनगर , फिरोजाबाद , मथुरा , मेरठ , गाजियाबाद , कानपुर , अलीगढ़ एवं सीतापुर में अगले आदेश तक के लिए इंटरनेट बंद कर दिए गए हैं ।


प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर चप्पे-चप्पे पर नजर रखे जाने के कड़े निर्देश दिए । पीस कमेटी की बैठकें कर आपसी समन्वय से शांति-व्यवस्था कायम रखने को कहा गया । गुरुवार को थानों में आउट रीच प्रोग्राम के तहत पीस कमेटी की बैठकें कर सीएए के बारे में जानकारी भी दी गई । प्रदेश के अति संवेदनशील इलाकों में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई गई है । जगह-जगह फ्लैग मार्च किया गया है । वरिष्ठ अधिकारियों ने मौलानाओं और मुस्लिम संगठनों के नेताओं से मुलाकात कर शांत रहने की अपील की । प्रदेश में लखनऊ , मेरठ , मथुरा , बागपत , आगरा , सम्भल , मुरादाबाद , सहारनपुर , बिजनौर , बुलंदशहर , बरेली , फिरोजाबाद समेत 21 जिलों में इंटरनेट सेवाएं बाधित कर दी गई । हिंसा प्रभावित अन्य जिलों में भी इंटरनेट सेवाएं प्रभावित कराने की तैयारी थी । गुरुवार को डीजीपी ने शुक्रवार को सभी संवेदनशील स्थानों पर लोगों को एक स्थान पर एकत्र न होने देने तथा उपद्रवी तत्वों पर कड़ी नजर रखे जाने का निर्देश भी दिया ।
         ➖    ➖   ➖   ➖   ➖
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें  : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए 
मो0 न0 : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

अतीक का बेटा असद और शूटर गुलाम पुलिस इनकाउंटर में ढेर : दोनों पर था 5 - 5 लाख ईनाम

अतीक अहमद और असरफ की गोली मारकर हत्या : तीन गिरफ्तार