सुर्खियों में चेतरा माइनर, सपा नेताओं से मिलकर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप 


                ( श्याम नरायन चौरसिया ) 
बस्ती ( उ0प्र0 ) । 
वैसे तो सिंचाई विभाग में भ्रष्टाचार की शिकायत आम बात है । लेकिन इस समय चेतरा माइनर अपने कार्यों को लेकर सुर्खियों में है, जिसकी शिकायत आईजीआरएस पर भी की गयी है । की गई शिकायतें बेहद गम्भीर हैं , हालात ऐसे नजर आ रहे हैं कि "बिन कोयला बिन पानी बलम रेलगाड़ी चलाई द हो" वाली गाने की लाईनें चरितार्थ हो रही है । जिले के हरैया तहसील के अग्नियापुर में चेतरा माइनर की खुदाई की जा रही है । आरोप है कि बिना टेण्डर व बाण्ड के पूरी तरह नियम कानून को धता बताते हुए कार्य कराया जा रहा है ।



प्रधान संघ के जिलाध्यक्ष अमित कुमार सिंह ने आईजीआरएस पर की गयी शिकायत में बिना टेण्डर, बिना बाण्ड के कार्य कराने का आरोप लगाते हुए मामले की उच्च स्तरीय जांच कराये जाने की मांग की । उनका कहना है कि समाजवादी पार्टी के कुछ दबंगो द्वारा जबरन नहर खुदाई की जा रही है । सिंचाई विभाग के अमीन रजनीश वर्मा और अतुल सिंह के मिलीभगत से लाखों का नहर खुदाई तेजी से की जा रही है जिससे विभागीय अधिकारियों द्वारा लाखों की राजस्व हानि भी पहुंचाई जा रही है । 


         


   बस्ती जिले के हर्रैया क्षेत्र के अग्नियापुर, तेनुआ में कराये जा रहे कार्यों में बिना टेन्डर के करोड़ो की नहर और साइफन पुलिया बन रहा है । जो 20 से 25 प्रतिशत कमीशन लेकर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं में बांट दिया गया है । नहरों पर सिंचाई विभाग के अमीन रजनीश वर्मा ने अपने कुछ चहेते ठेकेदारों के साथ मिलकर नहर की खुदाई बिना टेन्डर और बांड शुरू कर दिया है ।



इसकी शिकायत अधिशाषी अभियंता तृतीय गोंडा से किया गया , तो उन्होंने बताया कि खण्ड के किसी अधिकारी को जानकारी नही है । जबकि अमीन वर्मा ने बताया कि कार्य होना था , इसलिए कुछ लोगो को लाइन डोरी दी गयी है । हालांकि विभागीय अधिकारियो में जानकारी होते ही अफरा तफरी मच गयी है । अधिकारी कागजों में हेरा फेरी करने में लगे हैं । इसकी शिकायत प्रधान संगठन के जिलाध्यक्ष अमित सिंह ने चेतरा माइनर  की उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग की है ।



       इस सम्बन्ध में तारकेश्वर टाईम्स ने अधिशाषी अभियन्ता आर0 एस0 राय से बात की तो उन्होंने कहा कि ये मामला हमारे संज्ञान नहीं था । हमने एस. डी. ओ. से बात की है, कोई घटना हुई है । वो जानते हैं, उनसे बात कर लीजिये । फिर प्रार्थी ने एस. डी. ओ. से बात किया । उन्होंने कहा कि एक पाठक जी की जमीन एक यादव जी ने नहर के लिए रजिस्ट्री कराया था । उसी में नहर बननी थी । हमें भी जानकारी नहीं थी । रजनीश वर्मा अमीन की राय से पम्प यादव जी खुदवा रहे थे । जिसे रूकवा दिया गया है । 
    देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता 
चाहिए मो0 न0 : - 9350557628




इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

स्वतंत्रता आंदोलन में गिरफ्तार होने वाली राजस्थान की पहली महिला अंजना देवी चौधरी : आजादी का अमृत महोत्सव

निकाय चुनाव : बस्ती में नेहा वर्मा पत्नी अंकुर वर्मा ने दर्ज की रिकॉर्ड जीत, भाजपा दूसरे और निर्दल नेहा शुक्ला तीसरे स्थान पर