शिवसेना अब 'सोनिया - सेना' और सामना हुआ 'सोनिया - पत्र'

भारतीय जनता पार्टी के राज्यसभा सांसद जीवीएल नरसिम्हा राव ने तंज करते हुए कहा है कि शिवसेना अब 'सोनिया-सेना' और सामना 'सोनिया-पत्र' पत्र हो गया है । उन्होंने कहा कि शिवसेना को अपने मुखपत्र सामना का भी नाम बदलकर सोनिया पत्र रख लेना चाहिए ।


                        ( प्रशान्त द्विवेदी )


नई दिल्ली । महाराष्ट्र में शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस गठबंधन की सरकार पर बीजेपी ने निशाना साधा है । बीजेपी के राज्यसभा सांसद जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा है कि अब शिवसेना को कांग्रेस से हाथ मिलाने के बाद अपना नाम बदल कर 'सोनिया सेना' रख लेना चाहिए । साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि शिवसेना को अपने मुखपत्र सामना का भी नाम बदलकर सोनिया पत्र रख लेना चाहिए ।



जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा, 'अपने सहयोगी दल के ञसथ धोखा देकर और ऐस दलों के साथ मिलकर जो शिवसेना ने किया है वो ठीक नहीं है । शिवसेना की आइडियोलॉजी कांग्रेस से इत्तेफाक नहीं रखती है । यही वजह है कि राहुल गांधी उनसे गले लगने से बच रहे हैं । क्या राहुल डरे हुए हैं कि उद्धव ठाकरे को गले लगाना गले में लटकने के बराबर है । अब दिल्ली से कांग्रेस परिवार ठाकरे पर हुक्म चलाएगा । शिवसेना को कांग्रेस से हाथ मिलाने के बाद अपना नाम बदल कर 'सोनिया सेना' रख लेना चाहिए. साथ ही शिवसेना को अपने मुखपत्र सामना का भी नाम बदलकर सोनिया पत्र रख लेना चाहिए ।



इससे पहले जीवीएल नरसिम्हा राव ने ट्वीट कर उद्धव ठाकरे को गोडसे भक्त कहा था । उन्होंने लिखा था 'महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनने पर गोडसे भक्त उद्धव ठाकरे को बधाई । आप और आपके विधायकों ने अपनी वफादारी सल्तनत के आगे गिरवी रख दी. यह पूरा आत्मसमर्पण सामना को सोनियानामा करार देता है' ।
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता 
चाहिए मो0 न0 : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

स्वतंत्रता आंदोलन में गिरफ्तार होने वाली राजस्थान की पहली महिला अंजना देवी चौधरी : आजादी का अमृत महोत्सव

निकाय चुनाव : बस्ती में नेहा वर्मा पत्नी अंकुर वर्मा ने दर्ज की रिकॉर्ड जीत, भाजपा दूसरे और निर्दल नेहा शुक्ला तीसरे स्थान पर