सामूहिक विवाह योजना, बस्ती में 113 शादियां


बस्ती 14 नवम्बर 19, सू.वि., मुख्यमंत्री सामुहिक विवाह योजना गरीब की कन्याओं के लिए वरदान है। उक्त विचार कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सासद हरीश द्विवेदी ने व्यक्त किया। उन्होने ने कहा कि इसके अन्तर्गत प्रशासन विवाह कार्यक्रम आयोजित करता है। जीवनोपयोगी आवश्यक वस्तुए देता है तथा विवाह करने वाली कन्या के खाते में 35 हजार रूपया भी दिया जाता है।



उन्होने कहा कि जिस नव दम्पत्ति के पास गैंस का कनेक्शन नही है उन्हें उज्जवला येाजना के तहत गैस कनेक्शन भी दिलाया जायेंगा।  



इस अवसर पर 113 विवाहित जोड़ो को आशीर्वाद देते हुए उन्होने कहा कि शादी का आयोजन बड़े धुमधाम से किया जाता है। आज के इस अवसर पर बस्ती जिले के सभी विधायक आईजी, डीएम, एसपी आशीर्वाद देने के लिए उपस्थित है। बैण्ड बाजा के साथ साथ सांस्कृतिक कार्यक्र्रम भी चल रहा है। प्रदेश सरकार दृढ संकल्पित है कि गरीब की शादी में किसी प्रकार की कोई कमी न रहे। उन्होने कहा कि वर्ष 2017-18 में इस योजना में 184, वर्ष 2018-19 में 321 तथा 2019-20 में 336 जोड़ों का विवाह कराया गया है। 



उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा बेटी बचाओं, बेटी पढाओं का दिये गये सूत्र को सार्थक करते हुए प्रदेश सरकार बेटी के जन्म से लेकर वृद्धावस्था तक आर्थिक सहयोग की योजना संचालित कर रही है। उन्होने कहा कि जन्म से लेकर शिक्षा तक कन्या सुमंगला योजना में 15 हजार रूपये दिये जा रहे है। इसके अलावा कक्षा-12वी तक कन्या की शिक्षा पूरी तरह निःशुल्क है। इसके अलावा रोजगार के लिए भी कौशल विकास कार्यक्रम भी संचालित है बैंक से मुद्रा योजना के तहत लोन भी दिलाया जाता है। 
उन्होनेे कहा कि पिछले पाॅच वर्षो में बस्ती में मेडिकल कालेज खुला, मुण्डेरवा चीनी मिल स्थापित हुयी, इसके अलावा जिले के सड़को की कायाकल्प किया गया। कलवारी और रूधौली की सड़के बनवायी गयी।



समारोह को विधायक दयाराम चैधरी, चन्द्र प्रकाश शुक्ल, रवीसोनकर, अजय सिंह, संजय प्रताप जायसवाल, आईजी आशुतोष कुमार ने भी सम्बोधित किया, वर-वधू को आशीर्वाद दिया तथा प्रदेश सरकार की योजनाओं के बारे में जानकारी दिया। 



जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने बताया कि इस योजना में भविष्य में भी शादी समारोह आयोजित किए जायेंगे। उन्होने बताया कि इस योजना में लाभान्वित होने के लिए निराश्रित कन्या, विधवा महिला की पुत्री, दिव्यांग अभिभावक की पुत्री या दिव्यांग कन्या पात्र है। उन्होने बताया कि विवाह में सम्मलित जोड़ों को एक जोड़ा पायल, दो जोड़ा बिछिया, एक मोबाईल हैण्ड सेट, वर एवं वधू के लिए वस्त्र, वर्तन, पाॅच लीटर का कुकर, बैग आदि दिया जा रहा है। 35 हजार रूपये वधू के खाते में भेजा जायेंगा। 
उन्होनेे कहा कि इस योजना के लिए गरीब, निर्धन तथा दो लाख से कम आय वाले अभिभावक आवेदन कर सकते है। आवेदन पत्र ब्लाक, नगर पालिका या नगर पंचायत, जिला पंचायत कार्यालय से प्राप्त कर वही जमा कर सकते है। समारेाह को पवन कसौधन ने भी सम्बोधित किया। इसका संचालन डाॅ0 विवेक कुमार ने किया। गायत्री परिवार के आचार्यगण द्वारा मन्त्रोंचार से शादिया सम्पन्न करायी गयी। 08 मुस्लिम जोड़ों को मौलवी ने निकाह पढाया। 



इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा, अपर पुलिस अधीक्षक पंकज कुमार, एसडीएम सदर श्री प्रकाश शुक्ल, जिला विकास अधिकारी अजीत श्रीवास्तव, समाज कल्याण अधिकारी रामनगीना यादव, रमन मिश्र, टीपी गुप्ता, धर्मदेव तिवारी, एसके सिंह, सभी खण्ड विकास अधिकारी तथा वर-वधू के रिस्तेदारगण उपस्थित रहे।  ---   - -- -  ---  ---  


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 


लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 


सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता 


चाहिए मो0 न0  : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

अतीक का बेटा असद और शूटर गुलाम पुलिस इनकाउंटर में ढेर : दोनों पर था 5 - 5 लाख ईनाम

अतीक अहमद और असरफ की गोली मारकर हत्या : तीन गिरफ्तार