सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने वालों की खैर नहीं, कोर्ट के आदेश का सम्मान करें, 24×7 काम कर रहा प्रशासन @ अयोध्या


अयोध्या मामला : बस्ती के चप्पे चप्पे पर डीएम एसपी की नजर  , चौपालों से सोशल मीडिया तक खुफिया निगहबानी , हजारों पर कार्यवाही


                     ( संजीव पाण्डेय )
बस्ती । अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर देश की निगाहें टिकी हुई हैं । ऐसे में अत्यंत महत्वपूर्ण और संवेदनशील इस मुद्दे को लेकर शासन प्रशासन पूरी मुश्तैदी से अमन चैन बनाए रखने के लिए दृढ़ संकल्पित है । इसके लिए माक ड्रिल अभ्यास से लेकर अभेद्य सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये जा रहे हैं । जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन व पुलिस अधीक्षक हेमराज मीना ने चौतरफा दृष्टिकोण अपनाते हुए पूरी तैयारी कर ली है । वहीं पुलिस महानिरीक्षक आशुतोष कुमार ने भी जिले के सुदूरवर्ती सीमा व आसपास के क्षेत्रों में भ्रमण व निरीक्षण कर तैयारियों का जायजा लेते हुए दिशानिर्देश दिये ।


सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट करने के मामले में आज एक व्यक्ति को गिरफ्तार भी किया गया है, जिसके ऊपर कोतवाली बस्ती मेंं मुकदमा दर्ज है ।
पत्रकारों के साथ बातचीत में जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने एक साथ जिले की वस्तु स्थिति को लेकर जनमानस से आपसी भाईचारा बनाए रखने हेतु अपील करते हुए कहा कि अमन चैन में खलल पैदा करने वालों पर पूरे प्रशासन की पैनी नजर है । पुलिस अधीक्षक हेमराज मीना ने कहा कि गांवों, चौपालों, गली मोहल्लों से लेकर सोशल मीडिया तक किसी भी प्रकार के आपत्तिजनक व भावनाओं को आहत या भड़काने वाले विचारों का कदापि आदान-प्रदान नहीं किया जाना चाहिए । ऐसा करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी ।



जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय का सभी को सम्मान करना चाहिए और सामाजिक सौहार्द बनाए रखना सभी के लिए जरूरी है । उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था बनाए रखने के दृष्टिगत जिले में धारा 144 लागू है । किसी भी स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन तैयार है । उन्होंने कहा कि किसी भी तरह का धरना प्रदर्शन, विरोध व समर्थन या जुलूस जैसा कुछ नहीं किया जाना चाहिए । आशुतोष निरंजन ने कहा कि मामले गम्भीरता और स्थितियों को देखते हुए बैरिकेटिंग और अस्थाई जेलों की व्यवस्था भी की गयी । प्रशासन की नजर में सबसे ज्यादा सोशल मीडिया और आपराधिक पृष्ठभूमि वाले लोगों पर है । 
पुलिस अधीक्षक हेमराज मीना ने बताया कि हर जगह बैठकें करके लोगों को जागरूक किया जा रहा है । सोशल मीडिया पर निगरानी करते हुए पांच सालों में आपत्तिजनक और गलत टिप्पणी करने वालों को चिह्नित करते हुए कार्यवाही की जा रही है । इसमें जनपद में 198 लोगों को चिह्नित किया जा चुका है । अन्य आपराधिक मामलों में एक सौ लोगों पर गुण्डा अधिनियम के अन्तर्गत चिह्नित किया गया है और 24 लोगों पर कार्यवाही की जा चुकी है । श्री मीना ने बताया कि आपराधिक छवि वाले सबसे अधिक छ: हजार लोगों पर शान्ति भंग की आशंका में कार्यवाही की गयी है । इसके अलावा अन्य आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों पर भी कड़ी कार्रवाई की जा रही है ।



उन्होंने बताया कि हाईवे के सभी पेट्रोल पम्प सीसीटीवी से लैस हो गये हैं । शेष को 15 तारीख तक सीसीटीवी लगाने का समय दिया गया है । एक एक बटालियन पीएसी और एसएसबी व 141 रिक्रूट कांस्टेबल सहित सुरक्षा के तमाम इन्तजामात किये जा रहे हैं ।
 पुलिस अधीक्षक बस्ती हेमराज मीना की उपस्थिति में पुलिस लाइन बस्ती के परेड ग्राउंड मे माँक ड्रिल का पूर्वाभ्यास किया गया तथा पुलिस  अधीक्षक बस्ती द्वारा माँक ड्रिल से संबंधित अधिकारीगण/कर्मचारीगण को बताया गया कि दंगा करने वाले लोगो को तितर-वितर करने के लिए पुलिस द्वारा दंगा करने वाले लोगो को कैसे नियन्त्रित किया जाए तथा टियर गैस गन कैसे फायर किया जाए कि दंगाई भाग जाये जिससे स्थिति को नियन्त्रित किया जा सके एवं लाइव ड्रिल का अभ्यास भी कराया गया तथा पुलिस अधीक्षक बस्ती द्वारा दंगाईयो  पर काबू  पाने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये । मौके पर अपर पुलिस अधीक्षक बस्ती श्री पंकज, समस्त क्षेत्राधिकारी सहित समस्त संम्बन्धित विभागों के अधि0 /कर्मचारीगण उपस्थित रहे ।


पुलिस महानिरीक्षक बस्ती परिक्षेत्र आशुतोष कुमार द्वारा जनपद के थाना क्षेत्र परसरामपुर के अंर्तगत पड़ने वाले  कस्बा हैदराबाद , रुधौरा और सिकंदरपुर के ग्राम प्रतिनिधियों एवं दोनों वर्गों के सम्मानित लोगो के साथ अयोध्या प्रकरण पर  माननीय उच्चतम न्यायालय द्वारा आने वाले फैसले को लेकर बैठक आयोजित कर  माननीय उच्चतम न्यायालय के फैसले का सम्मान  करने की अपील की गई एवं थाना परसरामपुर का निरीक्षण कर न्यायालय के फैसले और अयोध्या मामले के सम्बन्ध में  सुरक्षा व्यवस्था को लेकर की गई तैयारियों का जायजा लिया गया ।



इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

अतीक का बेटा असद और शूटर गुलाम पुलिस इनकाउंटर में ढेर : दोनों पर था 5 - 5 लाख ईनाम

अतीक अहमद और असरफ की गोली मारकर हत्या : तीन गिरफ्तार