साहित्य प्रेमियों के हौसले को पंख लगा रहा पुस्तक मेला , जाॅन डियर और एस.पी. ऑटोमोबाइल्स की प्रस्तुति 


बस्ती में पुस्तक मेले ने साहित्यिक हलचल मचा दी है । पुस्तक मेला न्यास समिति ने पुस्तक प्रेमियों को संजीवनी देने कार्य किया है, जिसके लिए विद्वान बुद्धिजीवियों ने आयोजक मण्डल को उत्साहित करते हुए ऊर्जा प्रदान की है । साहित्य जगत में पुस्तक मेला चर्चा का विषय बना हुआ है । 



                        ( प्रशान्त द्विवेदी )


बस्ती ( उ0प्र0 )। 
     बस्ती में साहित्य साधक इन दिनों जश्न मना रहे हैं । बस्ती में पुस्तक मेला लगा है । साहित्य प्रेमियों के हौसलों को पंख लग गये हैं । सचमुच मेला लग गया है, पुस्तकों का भी और पुस्तक प्रेमियों का । यहां पूरे सप्ताह भर के लिए पुस्तक मेला जो लगा है । 



स्थानीय प्रेस क्लब बस्ती में जाॅन डियर ट्रैक्टर और एस. पी. ऑटोमोबाइल्स के तत्वावधान में आयोजित पुस्तक मेले के प्रति लोगों का आकर्षण बढ़ा हुआ है । बच्चे , बूढ़े, युवक , युवती सभी के लिए हौसले का शहर हो गया है बस्ती । 
 पुस्तक मेला यहां सोलह से बाईस नवम्बर 2019 तक चल रहा है । मेले के चौथे दिन मंगलवार को छात्र छात्राओं और पुस्तक प्रेमियों की भारी भीड़ देखने को मिली । विभिन्न शहरों से प्रकाशकों द्वारा लगाए गए स्टालों पर लोगों ने अपने रुचि की पुस्तकें खरीदीं ।



संस्कृति प्रकाशन वाराणसी से आये अभिनव चतुर्वेदी ने कहते हैं कि उनके प्रकाशन की धार्मिक व आध्यात्मिक पुस्तकों को लेने वाले पाठकों की संख्या सबसे ज्यादा रही । वहीं रामकृष्ण मठ के स्टाल पर बच्चों ने विवेकानंद, रामकृष्ण आदि के साहित्यों की जम कर खरीददारी की ।



शहर के प्रतिष्ठित इंडियन पब्लिक स्कूल व एस पी चिल्ड्रेन्स एकेडमी के बच्चों ने पुस्तक मेले के भ्रमण के दौरान साहित्य से सम्बंधित ढेरों प्रश्न पूछे । आयोजकों ने बच्चों से पुस्तकों के महत्व पर विस्तृत चर्चा की और उन्हें पुस्तकें पढ़ने हेतु प्रेरित किया । इस दौरान बच्चों और पुस्तक प्रेमियों को अभिनव चतुर्वेदी द्वारा गीत व कविताएँ सुनाई गयीं । पुस्तक मेले में पहुँचे बस्ती प्राधिकरण के सहायक अभियन्ता अनिल त्यागी ने कहा कि पुस्तकें मनुष्य जीवन की मार्गदर्शक होती हैं , वह अलग अलग आयु वर्ग तथा अलग अलग क्षेत्रों के लोगों की उनके अनुसार सहायता करती हैं ।



पुस्तक मेला न्यास के अध्यक्ष अखिलेश दूबे ने बताया की कल बीस नवम्बर को बालसोम गौतम जी की पुण्य तिथि पर सायं 4 बजे से विशाल कवि सम्मेलन आयोजित किया जायेगा । उन्होंने आम जन मानस से पुस्तक मेले में अधिक से अधिक संख्या मेंं पहुंच कर पुस्तक मेेले को सफल बनाने का आग्रह किया है ।



          बताते चलें कि बस्ती में पुस्तक मेले की शुरुआत अखिलेश जी ने ही की है और इस महान कार्य में सहयोग करने वाला समाज के प्रबुद्ध वर्ग को अखिलेश जी बार बार धन्यवाद देते हैं । पुस्तक मेले की आयोजन समिति में बृहस्पति पाण्डेय , भृगुनाथ त्रिपाठी "पंकज" , डाॅ0 वीरेन्द्र त्रिपाठी एवं सचिन्द्र शुक्ल , धर्मेन्द्र कुमार पाण्डेय "स्वप्निल" की भूमिका महत्वपूर्ण है ।



पुस्तक प्रोन्नयन के इस अभियान को बल प्रदान करने में डा0 रामनरेश सिंह मंजुल, कर्नल के. सी. मिश्र, केडीसी प्राचार्य डा. जे.पी. शुक्ल , प्रेस क्लब अध्यक्ष विनोद कुमार उपाध्याय , संध्या दीक्षित, डा. अश्वनी सिंह, डा. राम कुमार, कैलाश नाथ दूबे, राजेश मिश्र, कुलविन्दर सिंह मजहबी, स्नेहा पाण्डेय, नीलम मिश्रा का सराहनीय सहयोग मिल रहा है ।



विगत वर्षों की भांति इस वर्ष भी पुस्तकों का विमोचन के साथ ही विभिन्न क्षेत्रों में अपनी रचनात्मक प्रतिभा से नया आयाम गढ़ने वाली प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया है । पुस्तक मेले में यहाँ ज्ञान की डुबकी लगाई जा रही है और पुस्तक प्रेमियों के पौ बारह हैं ।



इस मेले की सार्थकता और सफलता में योगदान देने वाले प्रकाशनों में वाणी प्रकाशन, राजा पाकेट बुक्स, राजकमल प्रकाशन, प्रभात पेपर बुक्स , डायमण्ड पाकेट बुक्स, तुलसी साहित्य पब्लिकेशन, वायु एजुकेशन आफ इण्डिया, मोटीवेशनल बुक्स, वी एण्ड सन्स पब्लिकेशन, सस्ता साहित्य मण्डल, संस्कृति प्रकाशन वाराणसी, रामकृष्ण मठ के स्टाल लगे हुए है। जिनमें सबके रूचि की किताबें मौजूद है।
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता 
चाहिए मो0 न0 : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

अतीक का बेटा असद और शूटर गुलाम पुलिस इनकाउंटर में ढेर : दोनों पर था 5 - 5 लाख ईनाम

अतीक अहमद और असरफ की गोली मारकर हत्या : तीन गिरफ्तार