महाराष्ट्र में एक मंत्री ऐसा भी @ एकनाथ शिंदे 

मुम्बई में एकनाथ शिन्दे एक ऐसे नेता का नाम है , जिन्होंने कभी परिश्रम और लगन को अपने जीवन का मूलमंत्र माना है और पढ़ाई के समय में आटो रिक्शा चलाते हुए भी अपना इरादों को बुलन्द रखा है । आज ये विधायक मंत्री सब रह चुके हैं , बेटा सांसद है । एकनाथ शिन्दे को महाराष्ट्र की नई उद्धव सरकार में फिर बने हैं ।
               ( संजीव पाण्डेय )
  मुंबई । भाजपा-शिवसेना गठबंधन सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुके एकनाथ शिंदे का जन्म 9 फरवरी 1964 को महाराष्ट्र में हुआ था । बीते गुरुवार को शिवसेना ने उन्हें अपना विधायक दल का नेता चुना है । एकनाथ ठाणे के कोपरी - पंचपखाड़ी निर्वाचन क्षेत्र से विधायक हैं । शिंदे इससे पहले इसी विधानसभा क्षेत्र से लगातार तीन बार 2004, 2009 और 2014 में शिवसेना के टिकट पर विधायक चुने जा चुके हैं । विधायक चुने जाने से पहले एकनाथ शिंदे ठाणे महानगर पालिका में दो कार्यकाल तक नगर सेवक भी रह चुके हैं ।



एकनाथ शिंदे महाराष्ट्र के सतारा जिले में पहाड़ी जवाली तालुका से वास्ता रखते हैं। ठाणे शहर में आने के बाद, उन्होंने 11वीं कक्षा तक मंगला हाई स्कूल और जूनियर कॉलेज, ठाणे से पढ़ाई की। आजीविका चलाने के लिए पढ़ाई के साथ वह ऑटो रिक्शा चलाने लगे। एकनाथ ठाणे के वागले एस्टेट के रहने वाले हैं।



मुंबई से सटे ठाणे जिले में शिंदे की तूती बोलती है। ठाणे में शिंदे का प्रभाव कुछ ऐसा है कि लोकसभा चुनाव हो या निकाय चुनाव हमेशा इनका उम्मीदवार ही चुनाव जीतता है। एकनाथ के बेटे श्रीकांत शिंदे भी शिवसेना के ही टिकट पर कल्याण सीट से सांसद हैं । अक्टूबर 2014 से दिसंबर 2014 तक महाराष्ट्र विधानसभा में वे विपक्ष के नेता रहे हैं । 2014 में ही महाराष्ट्र राज्य सरकार में PWD के कैबिनेट मंत्री के रूप में नियुक्त हुए। 2019 में कैबिनेट मंत्री सार्वजनिक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री ( महाराष्ट्र सरकार ) का पद मिला ।
देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएँ 
लाॅग इन करें : - tarkeshwartimes.page 
सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता 
चाहिए मो0 न0 : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

स्वतंत्रता आंदोलन में गिरफ्तार होने वाली राजस्थान की पहली महिला अंजना देवी चौधरी : आजादी का अमृत महोत्सव

सो कुल धन्य उमा सुनु जगत पूज्य सुपुनीत