डीएम को बच्चों ने बांधा सेफ्टी बैण्ड, चाइल्ड लाईन के एकमात्र बच्चे आयुष को भेजा घर


                         बस्ती 08 नवम्बर । बहराईच के आयुष नाम के बालक को जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने शिक्षा एवं भरण-पोषण की व्यवस्था के लिए आवश्यक निर्देश दिया है । उन्होने निर्देश दिया है कि आयुष के पालन-पोषण में किसी प्रकार की कमी न होने पाये। कलेक्ट्रेट स्थित अपने कार्यालय में उन्होने आयुष से भेंट किया तथा उसे आश्वस्त किया कि वह खुशी से घर जाये। उसके बड़े पापा उसका पूरा ख्याल रखेंगे।


उल्लेखनीय है कि आयुष तीन दिन पहले दिल्ली से बस्ती आया और उसे मालवीय स्थित चाइल्ड लाईन के हवाले किया गया । पूछने पर उसने बताया कि वह बहराईच का रहने वाला है , और उसके मां - बाप नही है । वह अपने बड़े पापा के साथ ही रहता है । बड़ी मम्मी के उत्पीड़न से उसने घर छोड़ दिया और अब वह घर नही जाना चाहता है। 
जिलाधिकारी ने उसकी पीड़ा को सुनकर चाईल्ड लाईन के निदेशक राम ललित यादव को निर्देश दिया है कि आयुष को बाल संरक्षण गृह बहराईच भेजा जाय। वहां से उसके बड़े पापा को सुपुर्दगी में दिया जायेगा । बड़े पापा से एक बाण्ड भरवाकर लिया जाय कि वे आयुष का पूरा ख्याल रखेंगे, ढंग से पालन-पोषण करेंगे तथा समुचित शिक्षा दिलायेंगे । यदि किसी प्रकार का उत्पीड़न किया जाता है तो उनके विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। 



उल्लेखनीय है कि चाईल्ड लाईन से वर्तमान में एक मात्र बच्चा आयुष ही जिसे आज बहराईच भेजा जायेगा । इस अवसर पर बच्चों ने जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन, सीडीओं अरविन्द पाण्डेय, एडीएम रमेश चन्द्र को सुरक्षा बैण्ड भी बाधा। 
इस अवसर पर ग्रामीण सेवा समिति के मुख्य अधिशाषी अधिकारी अम्बुज कुमार के साथ आये बच्चों उत्कर्ष, ज्योत्सना, विनीत कुमार ने जिलाधिकारी को पुष्प गुच्छ देकर उनका स्वागत किया। 


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

अतीक का बेटा असद और शूटर गुलाम पुलिस इनकाउंटर में ढेर : दोनों पर था 5 - 5 लाख ईनाम

अतीक अहमद और असरफ की गोली मारकर हत्या : तीन गिरफ्तार