बेटियों को सर्वांगीण विकास हेतु समान अवसर मिलना चाहिए: अमित उपाध्याय, बेटियां ही बना सकती हैं सशक्त समाज : आनन्द राय, CWC में मनाया गया विश्व बालिका दिवस 

दुनिया में देश का नाम रोशन कर रहीं बेटियां : अमित कुमार उपाध्याय  ( अध्यक्ष सीडब्ल्यूसी ) 


बालिकाओं ने हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है : अनिल देव चौधरी 


                       (विशाल मोदी) 


सन्तकबीरनगर  ( उ0प्र0 ) । बेटियां हमारे समाज की धरोहर हैं । ये मातृ शक्ति होने के साथ ही साथ नित नई बुलन्दियों को छू रही हैं और देश दुनिया में देश का और अपना नाम ऊंचा कर रही हैं । बेटियों को शिक्षा सहित प्रत्येक क्षेत्र में समान अवसर उपलब्ध कराकर इनका मनोबल और देश व समाज का नाम                                  रोशन किया जा सकता है । ये बातें सन्तकबीरनगर बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष अमित कुमार उपाध्याय ने अन्तर्राष्ट्रीय बालिका दिवस पर बाल कल्याण समिति सन्तकबीर नगर द्वारा आयोजित कार्यक्रम में कहीं ।


        अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस 2019 के अवसर पर बाल कल्याण समिति संत कबीर नगर द्वारा एक परिचर्चा का आयोजन बाल कल्याण समिति सन्तकबीर नगर कार्यालय पर किया गया । कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला एवं शासकीय अधिवक्ता आनंद कुमार राय , विशिष्ट अतिथि अनिल देव चौधरी रहे । परिचर्चा का संचाल  सी डब्लू सी सदस्य सत्य प्रकाश उर्फ टीटू द्वारा किया गया । 
परिचर्चा की अध्यक्षता बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष अमित कुमार उपाध्याय द्वारा किया गया ।
 संगोष्ठी में बतौर मुख्यातिथि बोलते हुए डी जी सी क्रिमिनल  आनंद कुमार राय ने कहा कि बालिकाओं की प्रतिभा विकसित होनी चाहिए । इनके सर्वांगीण विकास के लिए समान अवसर मिलना चाहिए। सभी का यह दायित्व है कि बिना भेद भाव किये बालिकाओं को अपनी प्रतिभा विकसित करने का अवसर दें , क्योंकि बेटियों से ही एक सशक्त समाज का निर्माण सम्भव है। विशिष्ट अतिथि अनिल देव चौधरी ने कहा कि बेटा बेटी में अंतर नही करना चाहिए। उन्होंने ने कहा कि बालिकाओं ने हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है।
 सभा का सफल संचालन करते हुए समिति के सदस्य सत्य प्रकाश उर्फ टीटू ने कहा कि भारत मे कन्या पूजन तथा स्त्रियों के प्रति आदरभाव प्राचीन काल से रहा है। लोगों में अधिक से अधिक जागरूकता से बालिकाओं को उत्पीड़न से बचाया जा सकता है। 
संगोष्ठी की अध्यक्षता करते हुए समिति के अध्यक्ष श्री अमित कुमार उपाध्याय ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस की शुरुआत युनेस्को द्वारा अक्टूबर 2012 में कई गयी थी। हम सबकी यह प्रतिबद्धता है कि सभी बालिकाओं को गुडवत्तापूर्वक एवम उच्च शिक्षा मिले जिससे उनका जीवन सफल हो सके। अमित कुमार उपाध्याय ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस की शुरुआत युनेस्को द्वारा अक्टूबर 2012 में कई गयी थी। हम सबकी यह प्रतिबद्धता है कि सभी बालिकाओं को गुणवत्तापूर्वक एवम उच्च शिक्षा मिले जिससे उनका जीवन सफल हो सके।
कार्यक्रम में अधिवक्ता दिलीप कुमार शुक्ला ,  चंद्र मौलि चौबे, रवि भूषण पांडेय , विद्यानंद , नुजहत नसीम खानम, कलाम साहब,सामाजिक कार्यकर्ता राना परवीन , सतीश कुमार, सागर एवं सीताराम आदि उपस्थित रहे।


  लगातार खबरों से अपडेट रहने के लिए Visit on Google  - tarkeshwartimes.page 


संवाददाता चाहिए मो0 न0  - 9450557628 


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

अतीक का बेटा असद और शूटर गुलाम पुलिस इनकाउंटर में ढेर : दोनों पर था 5 - 5 लाख ईनाम

अतीक अहमद और असरफ की गोली मारकर हत्या : तीन गिरफ्तार