VVPat मशीन से हो सकती है EVM में छेड़छाड़ : कन्नन गोपीनाथ Retd. IAS


कोर्ट के आदेशों के तहत चुनाव आयोग (ईसी) ने इस साल के शुरू में लोकसभा चुनाव के दौरान ईवीएम के साथ वीवीपीएटी का इस्तेमाल किया
पूर्व चुनाव अधिकारी ने कहा- अब असंभव नहीं रहा EVM से छेड़छाड़, बताई यह वजह
              ( डाॅ0 एस. सी . पाण्डेय )


नई दिल्ली  ।
पूर्व आईएएस अधिकारी कन्नन गोपीनाथ ने मंगलवार को दावा किया कि पेपर ट्रेल मशीनों ने इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) को छेड़छाड़ की चपेट में ले लिया। 2012 बैच के अधिकारी रहे गोपीनाथ ने हाल में अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। उल्लेखनीय है कि साल 2017 के गोवा विधानसभा चुनावों के बाद से सभी ईवीएम के साथ मतदाता-सत्यापित पेपर ऑडिट ट्रेल मशीनों का इस्तेमाल किया गया है।


अंग्रेजी अखबार द टेलीग्राफ में छपी एक खबर के मुताबिक पूर्व आईएस गोपीनाथ ने आगे कहा, 'अब क्यों और सेवा (नौकरी के दौरान) में रहते हुए क्यों नहीं? मैंने इस मुद्दे को दो मौके पर उठाया था। एक बार जब ईसीआई ने निर्वाचन अधिकारी को आईआईआईडीईएम में ट्रेनिंग दे रहा था। दूसरी बार निर्वाचन अधिकारी रहते ईसीआईएल के समक्ष इस मुद्दे को उठाया। इसलिए मैं बिना किसी गड़बड़ी के अब अपनी चिंताओं को दूर करना चाहूंगा। 
      @ तारकेश्वर टाईम्स की खबर


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

रमंति इति राम: , राम जीवन का मंत्र

अतीक का बेटा असद और शूटर गुलाम पुलिस इनकाउंटर में ढेर : दोनों पर था 5 - 5 लाख ईनाम

अतीक अहमद और असरफ की गोली मारकर हत्या : तीन गिरफ्तार