मातृ शक्ति में राष्ट्र शक्ति समाहित है : भावेष पाण्डेय

               (विशाल मोदी) 

बस्ती (उ.प्र.) । विश्व महिला दिवस के अवसर पर नेशनल एसोसिएशन ऑफ यूथ के अध्यक्ष भावेष कुमार पाण्डेय ने कप्तानगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर ए.एन.एम, जी.एन.एम, आशा बहू, स्टाफ़ नर्स व अन्य महिला कर्मियों को गुलाब का पुष्प व सॉल भेंट कर सम्मानित किया। 

उन्होंने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस उन महिलाओं के लिए समर्पित है जो समाज में फैली कुरीतियों या विरोध के बावजूद अपनी अलग पहचान बना रही हैं. मातृ शक्ति में राष्ट्र शक्ति समाहित है, दुनिया भर में कई ऐसे देश है जहां महिलाओं को आज भी समान अधिकार नहीं मिला हुआ है. वहीं भारत में भी कई ऐसे कस्बे या गांव है जहां महिलाओं को द्वेष भावना, कुरितियों आदि का शिकार होना पड़ता है। लेकिन हाल के सालों में यह भी देखा गया है कि किस तरह महिलाएं पुरुषों के साथ कदम से कदम मिलाकर देश के तरक्की में अपनी भागीदारी दे रही हैं। ऐसे में कम से कम अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस ऐसा दिन है जिस दिन हम ऐसी सभी महिलाओं की सराहना कर सकते हैं। उन्हें सम्मानित करके स्पेशल महसूस करवा सकते हैं, साथ ही साथ समाज को भी उनके प्रति जागरूक कर सकते हैं। 

सामाजिक कार्यकर्ता राजेश त्रिपाठी जी ने कहा कि यत्र नार्यस्तु पूज्यते रमंते तत्र देवता अर्थात जहां नारी का सम्मान होता है वहां पर देवता निवास करते हैं। सामाजिक कार्यकर्ता वैभव पान्डेय ने कहा कि महिलाएं कुछ भी करने के लिए काफी मजबूत हैं, लेकिन समाज हमें अब भी उपेक्षित करता है। हमें बस लोगों की मानसिकता को बदलने और महिलाओं पर विश्वास करने की जरूरत है। 

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉ० एम.के. चौधरी ने कहा कि नारी शक्ति के अदम्य साहस, सम्मान, समानता, सुरक्षा, सहभागिता और सशक्तीकरण को मैं सलाम करता हूँ। इस अवसर पर सुरेंद्र चौधरी, गौरव त्रिपाठी, सुखराम गौड, रवि तिवारी, विशेष चौधरी, रामेश्वर गुप्ता, आनंद शर्मा, आलोक उपाध्याय आदि मौजूद रहे।

        ➖    ➖    ➖    ➖    ➖

देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं

लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page

सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए

मो. न. : - 9450557628

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

बस्ती : ब्लॉक रोड पर मामूली विवाद में मारपीट, युवक की मौत

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा