चिकित्सकों के अथक प्रयास से श्री कृष्णा मिशन हास्पिटल में बची प्रसूता की जान


(बृजवासी शुक्ल) 


 बस्ती (उ.प्र.) । श्री कृष्णा मिशन हास्पिटल के चिकित्सकों ने अथक प्रयास कर प्रसूता महिला जच्चा, बच्चा दोनों की जान बचा लिया। सिद्धार्थनगर जनपद के भवानीगंज थाना क्षेत्र के सागर रौजा निवासिनी ज्ञानमती पत्नी पप्पू को प्रसव के लिये महिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था, उसे झटके आ रहे थे। दुर्भाग्य से ज्ञानमती के परिजन महिला अस्पताल में सक्रिय रहने वाले दलालों के चंगुल में फंस गये और उसे यहां से कैली रोड स्थित एक निजी अस्पताल में ले गये। प्रसूता की हालत बिगड़ती चली गई। पप्पू के अनुसार लोगों ने सलाह दिया कि जच्चा, बच्चा दोनों की सलामती चाहते हो तो इसे श्री कृष्णा मिशन हास्पिटल ले जाओ, जब पप्पू अपनी प्रसूता को वहां से ले जाना चाहा तो निजी अस्पताल के लोगों ने उससे एक घंटे के लिये 6 हजार की मांग किया। पप्पू के अनुसार उसने रूपया जमा किया और प्रसूता पत्नी ज्ञानमती को श्री कृष्णा मिशन हास्पिटल में गंभीर स्थिति में भर्ती कराया। 



 श्री कृष्णा मिशन की महिला चिकित्सक ने तुरन्त इलाज शुरू किया और आपरेशन के बाद जच्चा-बच्चा दोनों सुरक्षित है। पप्पू ने श्री कृष्णा मिशन के चिकित्सकों, स्वास्थ्य कर्मियों की सराहना करते हुये कहा है कि उनके प्रयासों से उसकी पत्नी और बच्चे की जान बच गई।


श्री कृष्णा मिशन हास्पिटल के चेयरमैन बसन्त चौधरी ने चिकित्सकों के प्रयास की सराहना करते हुये कहा कि हास्पिटल में सुरक्षित प्रसव के लिये अत्याधुनिक   प्रबन्ध किये गये है। संकट की स्थिति में लोगों को एक बार यहां जरूर आना चाहिये। दलालों के चंगुल में फंसकर मरीजों की जान भी जा सकती है। सुरक्षित प्रसव के लिये हास्पिटल में 24 घंटे सुविधा उपलब्ध है।


        ➖     ➖     ➖     ➖    ➖


देश दुनिया की खबरों के लिए गूगल पर जाएं


लॉग इन करें : - tarkeshwartimes.page


सभी जिला व तहसील स्तर पर संवाददाता चाहिए


मो. न. : - 9450557628


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

लखनऊ में सैकड़ों अरब के कैलिफोर्नियम सहित 8 गिरफ्तार, 3 बस्ती के

समायोजन न हुआ तो विधानसभा पर सामूहिक आत्महत्या करेंगे कोरोना योद्धा

बस्ती पंचायत चुनाव मतगणना : अबतक घोषित परिणाम